Spread the love

आज बीबीसी की एक पोस्ट को लेकर काफी यूजर्स से नाराज़गी ज़ाहिर की, जिसमे यूक्रेन की बात की गयी है.

बीबीसी हिंदी की वेबसाइट पर आज एक लेख प्रकाशित हुआ जिसका शीर्षक था “संकट के बावजूद यूक्रेन क्यों जा रहे हैं भारतीय छात्र”, इसमें बीबीसी लिखता है की “मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक करीब 18 से 20 हजार भारतीय छात्र यूक्रेन में रह रहे हैं. यूक्रेन की राजधानी कीव में भारतीय दूतावास ने अपने नागरिकों के लिए अलग से एक इमरजेंसी हेल्पलाइन +380 997300483, +380 997300428 और एक ई-मेल की व्यवस्था की है“.

इस लेख में बीबीसी लिखता है की लगभग 20 हज़ार भारतीय छात्र यूक्रेन में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं और अपने लेख में कुछ छात्रों से बात करने का हवाला भी देता है, लेकिन जिस बात पर काफी पाठकों ने नाराज़गी दर्ज करायी उनमे यह की बात यूक्रेन और रूस की लड़ाई की हो रही है जबकि बीबीसी उसमे हिजाब पहनी मुस्लिम छात्रा की फोटो को ही थंबनेल बना कर दिखा रहा है.

रूस और यूक्रेन के संभावित युद्ध के बीच बीबीसी द्वारा स्वघोषित 20 हज़ार छात्रों में चैनल को एक मुस्लिम लड़की का फोटो लगाया है जिसने हिजाब पहना हुआ है और उसकी की फोटो को वो थंबनेल बनाकर इस्तेमाल करता है. जिसे लेकर काफी यूजर नाराज़गी दिखा रहें हैं.

इसे लेकर अलग अलग पाठकों की प्रतिक्रियां बीबीसी की वाल पर मौजूद हैं जिनमे से हम कुछ को यहाँ दर्शा रहें हैं