Categories
अजब गजब

महिला ने दोस्त के बेटे से की शादी, लेकिन हनीमून पर हो गया हादसा

इश्क और जंग में सब जायज है यह तो आपने सुना ही होगा बस ऐसा ही समझ लीजिए की अर्जेंटीना के कपल ने प्यार की सारी हदें पार कर दी और इस बात को सच कर दिखाया है कि प्यार की कोई उम्र नहीं होती वह कभी भी हो सकता है। इस अनोखी लव स्टोरी में जो लड़की है 91 साल की है और लड़का 23 साल का हालांकि इन दोनों की शादी के बाद जब यह दोनों हनीमून पर जाते हैं तो हनीमून की रात एक हादसा हो जाता है।

आइए जानते हैं पूरी स्टोरी

दरअसल अर्जेंटीना में रहने वाली 91 वर्ष की एक महिला ने अकेलेपन के कारण अपनी एक दोस्त के घर पर रहने का फैसला किया महिला की उस दोस्त का एक 23 वर्षीय बेटा था जो कि अपनी पढ़ाई कर रहा था इस महिला की दोस्त और उसका बेटा दोनों की आर्थिक स्थिति सही नहीं थी तो इस महिला ने अपनी पेंशन से अपनी दोस्त और उसके बेटे की जरूरतों को पूरा किया।

दरअसल यह शादी सिर्फ पैसों की एक बड़ी वजह से हुई थी जिसमें इस महिला ने सोचा कि उसकी मृत्यु के बाद भी अपनी दोस्त और उसके बेटे कि कैसे मदद करेगी तो उसने एक आईडिया बनाया।

आइडिया यह था महिला और उसकी दोस्त का बेटा आपस में शादी करेंगे जिससे कि महिला की मृत्यु के बाद महिला की जो पेंशन होगी वह उसके पति को मिलेगी यही सोच कर दोनों ने एक दूसरे से शादी की लेकिन हनीमून की रात किसी हादसे के कारण महिला की मृत्यु हो जाती है। तो लड़का पेंशन पर क्लेम करता है।

लेकिन इश्क और जंग में सब जायज है यह तो आपने सुना ही होगा बस ऐसा ही समझ लीजिए की अर्जेंटीना के कपल ने प्यार की सारी हदें पार कर दी और इस बात को सच कर दिखाया है कि प्यार की कोई उम्र नहीं होती वह कभी भी हो सकता है। इस अनोखी लव स्टोरी में जो लड़की है 91 साल की है और लड़का 23 साल का हालांकि इन दोनों की शादी के बाद जब यह दोनों हनीमून पर जाते हैं तो हनीमून की रात एक हादसा हो जाता है।

आइए जानते हैं पूरी स्टोरी

दरअसल अर्जेंटीना मैं रहने वाली 91 वर्ष की एक महिला ने अकेलेपन के कारण अपनी एक दोस्त के घर पर रहने का फैसला किया महिला की उस दोस्त का एक 23 वर्षीय बेटा था जो कि अपनी पढ़ाई कर रहा था इस महिला की दोस्त और उसका बेटा दोनों की आर्थिक स्थिति सही नहीं थी तो इस महिला ने अपनी पेंशन से अपनी दोस्त और उसके बेटे की जरूरतों को पूरा किया।

दरअसल यह शादी सिर्फ पैसों की एक बड़ी वजह से हुई थी जिसमें इस महिला ने सोचा कि उसकी मृत्यु के बाद भी अपनी दोस्त और उसके बेटे कि कैसे मदद करेगी तो उसने एक आईडिया बनाया।

आइडिया यह था महिला और उसकी दोस्त का बेटा आपस में शादी करेंगे जिससे कि महिला की मृत्यु के बाद महिला की जो पेंशन होगी वह उसके पति को मिलेगी यही सोच कर दोनों ने एक दूसरे से शादी की लेकिन हनीमून की रात किसी हादसे के कारण महिला की मृत्यु हो जाती है। तो लड़का पेंशन पर क्लेम करता है।

लेकिन पेंशन अधिकारी उस लड़के पर ही धोखाधड़ी का आरोप लगा देती है जिससे कि उस लड़के की जेल में जाने की नौबत आ जाती है हालांकि बड़ी कोशिशों के बाद इस लड़के को जेल जाने से बचाया गया है। कंपनी उस लड़के पर ही धोखाधड़ी का आरोप लगा देती है जिससे कि उस लड़के की जेल में जाने की नौबत आ जाती है हालांकि बड़ी कोशिशों के बाद इस लड़के को जेल जाने से बचाया गया है।

Categories
अजब गजब

महिला ने पति को देकर तलाक की पालतू कुत्ते से शादी

दुनिया में अजब गज़ब शादी के किस्से सुनने में अक्सर एते है लेकिन आज आपके शामे हम एक ऐसा शादी के बंधन में बंधा जोड़ा लेकर सामने आये है जिसके बारे में आप जान कर हैरान रह जायेगे। पति-पत्नी के बीच तलाक हो जाना कोई नई बात नहीं है, लेकिन अगर कोई पति को छोड़कर अपने पालतू जानवर से शादी कर ले तो ये वाकई अजीब बात है।

UK में एक महिला ने 47 साल की उम्र में अपने पति को तलाक देकर अपने पालतू कुत्ते को अपना हमसफर चुन लिया है। महिला का नाम अमांडा रोजर्स (Amanda Rodgers) है। वो अपने डॉगी से शादी करने के बाद काफी खुश हैं। The Sun की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने साल 2014 में धूमधाम से शादी की थी और 200 लोगों के सामने अपने डॉगी शेबा (Sheba) को अपना हमसफर बना लिया था।

महिला बेजुबान जानवर के साथ इतनी अच्छी ज़िंदगी जी रही है कि उसने ये भी कह दिया है कि इतने साल की शादी में वो इतनी खुश कभी नहीं रही। क्रोएशिया (Croatia) की रहने वाली अमांडा पति से तलाक लेने के बाद अकेले ही रह रही थीं। फिर एक दिन उन्होंने अपनी पेट डॉगी शेबा के साथ पूरे रीति-रिवाज़ के साथ शादी कर ली।

उन्होंने उसके साथ जीने-मरने की कस्में खाईं और उसे चूमते हुए अपना लाइफ पार्टनर मांग लिया। अब अमांडा रोजर्स का कहना है कि शेबा उनकी ज़िंदगी का अहम हिस्सा है। वो उन्हें हंसाती है, खुश रखती है और उदासी में सहारा भी देती है. शेबा उन्हें कभी तंग नहीं करती और खासा ख्याल भी रखती है। एक टीवी शो पर आकर उन्होंने बताया कि जब शेबा 2 महीने की थी, तभी से उन्हें उससे प्यार हो गया था।

Categories
अजब गजब

30 साल तक माँ ने बेटी से किया बीमार होने का नाटक, मरते समय कहा बहुत मज़ा आया सेवा करवा कर

माँ बेटी के बीच रिश्ता ऐसा होता है जिसमे माँ अपनी बेटी से कुछ नहीं छुप्ती है तो ऐसे ही बेटी भी अपनी माँ को अपने सरे राज़ बताती है। लेकिन हम आपको एक ऐसे माँ के बारे में बटन जा रहे है जिसने मरते मरते अपनी बेटी से अपनी एक बीमारी को लेकर झूट कहा। जिसकी सच्ची ऐसे पता चली की आप हैरान रह जाये गए। दुनिया में कई ऐसी बीमारियां हैं जो इतनी अजीबोगरीब (Weird Diseases) होती हैं कि उनके बारे में जानकर ही इंसान दंग हो जाता है।

कुछ ऐसे सिंड्रोम भी होते हैं जो इतने विचित्र (Weird Syndromes) होते हैं कि उनके लक्षण जानकर हर कोई दंग हो जाता है। हाल ही में इंग्लैंड की एक महिला से जुड़े सिंड्रोम (England Woman Strange Syndrome) के बारे में जब पता चला तो उसकी बेटी हैरान रह गई और जब ये खबर सबके सामने आई तो हर कोई सुनकर दंग रह गया। नॉटिंघम की रहने वाली हेलेन नेलर (Helen Naylor) की मां एलिनॉर (Elinor) की हाल ही में मौत हुई है।

तो वो पूरी तरह से टूट गईं थी मगर मां के मरने के बाद जब हेलेन ने अपनी मां की पर्सनल डायरी पढ़ी तो वो जानकर हैरान रह गईं कि उनकी मां को एक विचित्र तरह का सिंड्रोम था। दरअसल, एलिनॉर ने अपनी बेटी हेलेन को पूरी जिंदगी ये बताया कि उन्हें जॉइंट पेन, और काफी थकान (Mother Faked Illness) हमेशा ही बनी रहती है। मगर डायरी में सच पढ़कर हेलेन के पैरों तले जमीन खिसक गई। द सन वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार एलिनॉर को एक विचित्र तरह का सिंड्रोम था जिसका नाम मुनचौसेन्स सिंड्रोम (Munchausen’s syndrome) है।

जो लोग इस सिंड्रोम से ग्रसित होते हैं वो बीमार होने का नाटक करते हैं। उन्हें दूसरों से सेवा करवाने में और उनकी सिंपैथी लेने में बहुत अच्छा लगता है। हेलेन ने बताया कि उनकी मां ने 30 सालों तक उनसे झूठ बताया कि वो बहुत बीमार हैं और उनकी तबीयत हमेशा ही खराब रहती है। सालों तक बेटी से बोला झूठ38 साल की हेलेन ने बताया कि बहुत छोटे से ही उन्हें अपनी मां का ख्याल रखना पड़ता था क्योंकि वो बहुत बीमार थीं। वो कभी परिवार के साथ घूमने नहीं गईं, यहां तक कि कभी बाहर टहलने तक नहीं गईं थी। एलिनॉर ने अपनी डायरी में साफ-साफ लिखा है कि बीमारी के बारे में झूठ बोलकर उन्हें बहुत मजा आ रहा है और वो बेहद खुश हैं।

Categories
अजब गजब

कुंवारे यह वीडियो ना देखें, सात फेरे लेती खूबसूरत दुल्हन के पति से आपको जलन हो सकती है

शादी एक पवित्र बंधन है जिसमें एक लड़का लड़की सात जन्म तक साथ रहने की कसमें खाकर बंध जाते हैं। दुनिया में सबसे अहम रिश्ता पति-पत्नी का होता हैं लेकिन इस रिश्ते में अक्सर कुछ अनोखा देखने को मिल जाता है।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है इस वीडियो में एक विवाहित जोड़ा नजर आ रहा है। एनी सोशल मीडिया पर आप शादीशुदा जोड़ों के फोटो और वीडियो देखते होंगे इनमें कुछ अजीबोगरीब जोड़े भी नजर आते होंगे लेकिन हम आपको एक ऐसे जोड़े की वीडियो दिखाने जा रहे हैं।

जिसमें एक खूबसूरत लड़की 2 फीट से भी कम के एक बूढ़े आदमी से शादी के मंडप पर फेरे लेते नजर आ रही है। चारों ओर इस जोड़े के मेहमान है और इस जोड़े की फेरे लेते हुए वीडियोग्राफी हो रही है यही एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुई है।

लेकिन इस वीडियो की अभी तक पुष्टि नहीं हो सकी है कि यह वीडियो कहां की है और ना ही इस बात की पुष्टि हुई है की वीडियो फेक है या रियल वीडियो इंस्टाग्राम के एक अकाउंट पर पड़ी है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Hiii Stop (@hiii_stop)

Categories
अजब गजब

71 साल से थी बर्फीली पानी की झील अचानक निकल आया एक खोया हुआ गांव

अक्सर सुनने में आता है किसी ना किसी देश के शहर में क्या किसी अनजान टापू पर दुनिया के किसी भी छोड़ पर कुछ साल पुराने गांव और शहर खुदाई में मिलते हैं मगर इटली में चौधरी शताब्दी के एक चर्च की मीनार इस झील के बर्फीले पानी के बीच में मौजूद है।

लेकिन इस झील में एक खोए हुए गांव के अवशेष मिलने के बाद से लोग इसके निर्माण का इतिहास जानकर हैरान हो गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक जब कई वर्षों बाद झील की मरम्मत का काम शुरू हुआ तो उसके पानी को अस्थाई रूप से सुखाया गया। इसके बाद ही लोगों ने सामने दशकों से जलमग्न गांव की तस्वीर आई।

आपको बता दें लेक रेसिया को जर्मन में रेसचेन्सी के नाम से जाना जाता है यह दक्षिण टायराल के अल्पाइन क्षेत्र में स्थित है, जो ऑस्ट्रिया और स्विजरलैंड की सीमा में है बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक 1950 में पानी में सामान्य से पहले क्यूरॉन नामक यह गांव सैकड़ों लोगों का घर हुआ करता था।

दरअसल एक हाइड्रोलिक प्लांट बनाने के लिए सरकार ने यहां 71 साल पहले एक बांध का निर्माण करवाया जिसके लिए 2 जिलों को मिलाया गया और इस क्यूरॉन गांव का वजूद मिट गया। जब 1950 में गांव के निवासियों की आपत्तियों के बावजूद भी अधिकारियों ने एक बांध बनाने और पास की दो बड़ी झीलों को मिलाने का फैसला किया तो यह गांव पानी की गहराई में खो गया था।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Matteo Cau (@the_rex89)

Categories
अजब गजब

कैसे हुई थी पहली बार जहर से इंसानों की मौत? खुला राज़ 5000 साल पुरानी हड्डियों से

वैज्ञानिकों आये दिन नई-नई खोज कर रहे है और हमारा काम है उनकी इस खोज को आप तक लाना जिससे की आपको भी इस ब्रह्माण्ड में चल रही गति विधियों के बारे में पता चल सके। हम आज आपको बताने जा रहे है की वैज्ञानिकों ने 5000 साल पुरानी कुछ मानव हड्डियों की खोज की है। हड्डियों की खोज स्पेन और पुर्तगाल में की गई है जो 370 व्यक्तियों की हैं। ये लोग नवपाषाण या ताम्र युग के दौरान जीवित थे। 2900 और 2600 ईसा पूर्व के बीच के लोगों के शरीर में मरक्यूरी का उच्च स्तर पाया गया है।

जिनमें उच्च स्तर का पारा (Mercury) पाया गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह मरक्यूरी जहर का सबसे पुराना सबूत है। यूनिवर्सिटी ऑफ नॉर्थ कैरोलिना विलमिंगटन के नेतृत्व में वैज्ञानिकों की एक टीम ने इंसानों को जहर देने की गुत्थी का निष्कर्ष निकाला है। वैज्ञानिकों का दावा है कि सिनाबार (cinnabar) के संपर्क में आने से इंसानों के शरीर में जहर पहुंचा।

सिनाबार एक मरक्यूरी सल्फाइड खनिज है जो दुनिया भर में थर्मल और ज्वालामुखी क्षेत्रों में स्वाभाविक रूप से बनता है। तोड़े जाने पर यह लाल पाउडर में बदल जाता है। सिनाबार एक मरक्यूरी सल्फाइड खनिज है जो दुनिया भर में थर्मल और ज्वालामुखी क्षेत्रों में स्वाभाविक रूप से बनता है। तोड़े जाने पर यह लाल पाउडर में बदल जाता है। शोधकर्ताओं ने इंटरनेशनल जर्नल ऑफ ऑस्टियोआर्कियोलॉजी में प्रकाशित अध्ययन में शेयर किया है कि आइबेरिया में पिगमेंट, पेंट या ड्र’ग्स के रूप में सिनाबार का इस्तेमाल पुरापाषाण काल से शुरू हुआ और नवपाषाण और ताम्र युग में धीरे-धीरे तेज हो गया।

ऐतिहासिक रूप से इस पाउडर का इस्तेमाल पेंट में पिगमेंट बनाने के लिए किया जाता था। इसके अलावा ‘मैजिक’ ड्र’ग्स के रूप में भी इसका सेवन किया जाता था। शोधकर्ताओं के अनुसार मृत लोगों ने गलती से पाउडर को सूंघ लिया होगा या उसका सेवन किया होगा। जिससे उनकी हड्डियों में पारा का स्तर असामान्य रूप से बढ़ गया था। डब्ल्यूएचओ वर्तमान में मानता है कि बालों में पारा का सामान्य स्तर 1 या 2 पीपीएम से अधिक नहीं होना चाहिए। अल्माडेन सिनाबार का इस्तेमाल 7000 साल पहले नवपाषाण काल में शुरू हुआ था। लेकिन ताम्र युग की शुरुआत में इस खनिज ने समाज में एक अहम जगह बना ली।

Categories
अजब गजब

प्लेन में शराब ले जाने से रोका तो महिलाएं एयरपोर्ट पर बांटने लगीं वोदका, देखें वीडियो

शरा’ब के शौकीन दुनिया के हर कोने में मिल जाएंगे। ऐसी ही शरा’ब की शौकीन महिलाओं के एक वीडियो ने एंटरनेट पर तहलका मचा दिया है। अमेरिका के एक एयरपोर्ट पर एक अजीबोगरीब घटना सामने आई। एक महिला अपने बैग में वोदका लेकर पहुंच गई और सुरक्षाकर्मियों ने जांच में उसे पकड़ लिया। सुरक्षाकर्मियों ने महिला से कहा कि वह वोदका बोतलों को निकालकर फेंक दे या फिर कहीं रख दे, तभी उन्‍हें आगे की यात्रा करने दी जाएगी।

अब महिला के पास या तो उस वोदका फेंकने या उसे पी जाने का विकल्‍प बचा था। महिला पूरी शरा’ब पी नहीं सकती थी, इसलिए उसने अनोखा तरीका निकालते हुए एयरपोर्ट पर आ रहे यात्रियों को प‍िलाना शुरू कर दिया। इन लड़कियों ने एयरपोर्ट पर कई यात्रियों को फ्री में बोदका शॉट्स ऑफर किए। लोगों ने भी उनके इस ऑफर को स्वीकार किया और सिक्योरिटी स्टाफ भी ये नजारा देख हंसते नजर आया।

वीडियो अमेरिका के न्यूयॉर्क का बताया जा रहा है। मियामी जाने वाली दो महिलाओं को प्लेन में तय मात्रा से ज्यादा बोदका ले जाने पर रोक दिया गया। इस घटना के वीडियो में नजर आ रहा है कि महिला और उसके साथ यात्रा कर रहीं अन्‍य महिलाओं ने अन्‍य यात्रियों को चेक इन गेट पर ही वोदका पिलाना शुरू कर दिया। इस वीडियो को टिकटॉक पर यूजर @latinnbella ने शेयर किया है। उसने बताया कि महिलाएं मियामी जा रही थीं। इन महिलाओं के पास वोदका की 2 बड़ी बॉटल थी। अमेरिका में एयरपोर्ट पर 100 एमएल से ज्‍यादा श’राब ले जाने पर बैन है।

महिला यात्रियों को शरा’ब बांटते देख यात्री लाइन में लग गए और सुरक्षाकर्मियों की हंसी फूट पड़ी। हालांकि कोरोना काल में इस तरह से श’राब बांटने पर कई लोग सवाल भी उठा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि कोरोना काल में श’राब पीने के लिए यात्रियों को मास्‍क उतारना पड़ा। इस वीडियो को अब तक 1 करोड़ से ज्‍यादा बार देखा जा चुका है।

Categories
अजब गजब

मंगल ग्रह से आई एलियंस के ‘कब्रिस्तान’ की तस्वीरे, NASA ने जारी की

आए दिन देखने में आता है किसी ना किसी देश के वैज्ञानिक स्पेस में जाकर दूसरे ग्रह पर अपनी खोज करते हैं। ऐसे में दुनिया भर के वैज्ञानिक कई सालों से दूसरे ग्रह पर जीवन है या नहीं उसके निशान ढूंढ रहे हैं। ऐसे में किसी भी विज्ञानिक को अभी तक इसमें कोई सफलता नहीं मिल पाई है।

सिर्फ दावे किए जाते हैं लेकिन पुख्ता तौर पर कोई सबूत नहीं मिल पाया है। वैज्ञानिक पृथ्वी के अलावा दूसरे ग्रह पर पानी ऑक्सीजन की तलाश में जुटे हुए हैं। कुछ ग्रह पर वैज्ञानिकों को उम्मीद की किरण भी मिली है। इस उम्मीद की किरण में जिस ग्रह का नाम सबसे पहले आता है वह मंगल ग्रह है। कुछ समय पहले नासा ने मंगल ग्रह पर मार्स रोवर भेजा था

उसने कुछ तस्वीरें ली और उनमें से जो लेटेस्ट तस्वीर आई है उसे देखने के बाद लोग इसे मार्स पर कब्रिस्तान बता रहे हैं। नासा के मार्स रोवर ने स्पेस एजेंसी के जरिए मंगल ग्रह की कुछ नई तस्वीरें शेयर की थी। इसमें लाल ग्रह पर पढ़े बड़े-बड़े पत्थर देख रहे थे उन्हें देखने के बाद कई लोगों ने इसे कब्रिस्तान की फोटो बताइए है। कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि मंगल ग्रह पर पहले से ही लोग रहते थे और यह उन्हीं का कब्रिस्तान है। डेली मिरर में छपी तस्वीर को देखिए कब्रिस्तान नजर आ रहा है।

रोवर को नासा ने पिछले साल जुलाई में मार्स पर भेजा था। फरवरी 2022 तक ये मंगल ग्रह की तस्वीरें भेजेगा। मार्स रोवर का एक ट्विटर पेज पर बनाया गया है। इसपर नासा भेजी गई तस्वीरें अपलोड करती है। इसे अभी तक 28 लाख लोग फॉलो कर रहे हैं। लोग भी मंगल ग्रह की नई तस्वीरें देखने के लिए एक्साइटेड रहते हैं। अब जो तस्वीरें सामने आई है, उसमें जो दिख रहा है, उसे लोगों ने एलियन का कब्रिस्तान बता रहे हैं।

Categories
अजब गजब

‘UFO हुआ था क्रैश, मेटल जैसे कपड़ों में मिली थीं एलियंस की बॉडीज’

दुनिया में ‘अनआइडेंटिफाइड फ्लाइंग ऑब्जेक्ट’ (UFO) और एलियंस को लेकर लोगों के बीच खासा क्रेज रहता है। बात है साल 1947 के गर्मियों की जब एक पशुपालक ने न्यू मेक्सिको राज्य के रोसवेल में भेड़ों को चराते हुए एक अज्ञात मलबे की खोज की कई लोगों का मानना था कि ये UFO का मलबा है। लेकिन स्थानीय एयरफोर्स बेस के अधिकारियों ने इस बात पर जोर दिया कि ये सिर्फ एक गुब्बारा था, जो दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

FBI की फाइलों के दस्तावेजों में यूएफओ देखे जाने कई मामले सामने आचुके है ऐसा ही एक मामला है, 27000 मील प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा करने और फिर दुर्घटनाग्रस्त होने की कहानियों पर। ऐसे में एक बार फिर से ‘दूसरी दुनिया’ के दावे की चर्चा शुरू हो गई है। ‘द सन यूके’ के मुताबिक, FBI के दस्तावेज़ों में आसमान में ‘रहस्यमय वस्तु’ देखने के बारे में बताया गया है।

साथ ही ये भी बताया गया कि कैसे 1940 के दशक से UFO देखे जाने की घटनाओं में वृद्धि हुई। दस्तावेजों में दावा किया गया कि पिछले कुछ सालों में सैकड़ों यूएफओ देखे गए है। इस दौरान एक बार दुर्घटना भी हुई, जिसमें कोई भी जीवित नहीं बचा था। दावा किया गया कि तीन शव मिले थे, जो कि एलियंस के थे।

रिपोर्ट में आगे कहा गया- “मानव आकार के तीन लोग थे, जो केवल तीन फीट लंबे थे.” उन्होंने “बहुत महीन बनावट के मेटल के कपड़े पहने” थे। दस्तावेजों में एक दो नहीं बल्कि दर्जनों बार एलियंस देखने की बात कही गई.

आज भी बहुत से लोग मानते हैं कि सरकार और सेना रोसवेल में और उसके आसपास एलियन लैंडिंग के बारे में सच्चाई को छुपा रही है. 1994 में, पेंटागन ने प्रोजेक्ट मोगुल और डमी ड्रॉप्स पर अपनी अधिकांश फाइलों को अवर्गीकृत कर दिया और संघीय सामान्य लेखा कार्यालय ने इन अफवाहों को खारिज करने के लिए डिजाइन की गई एक रिपोर्ट (रोसवेल घटना के संबंध में एयरफोर्स रिसर्च की रिपोर्ट) तैयार की. फिर भी, अभी भी ऐसे लोग हैं जो UFO सिद्धांत को मानते हैं।

Categories
अजब गजब

अनोखी Car जिसकी लम्बाई है 10 मंजिला इमारत के बराबर, हेलीपैड और स्विमिंग पूल की है सुविधा, देखे वीडियो

आप ने सोशल मीडिया पर बहुत सी अजब गजब की गाड़ियां देखी होगी लेकिन क्या अपने कभी ऐसी कार के बारे में सुना है जिस Car में नहाने के लिए स्विमिंग पूल हो हेलीपैड हो और यहाँ तक की 100 फीट लम्बी हो। अगर नहीं सुना है तो आप सही जगह पर आये है। हम आज आपको एक ऐसी कार के बारे में बताने जा रे है। जोकि 100 फीट लम्बी कार है इस Car के अंदर के इंटीरियर के बारे में जान के आपके होश उड़ जायेगे।

इस Car ने दुनिया की सबसे लंबी कार होने का रिकॉर्ड दर्ज है। ये कोई मामूली कार नहीं इसकी तस्वीर देखकर ही लोग हैरान हो जाते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि इस कार की खासियत क्या है। ‘द अमेरिकन ड्रीम’ (The American Dream) के नाम से फेमस लेमोजीन (World’s longest limousine) कार को दुनिया की सबसे लंबी कार होने का गौरव हासिल है।

इस कार ने साल 1986 में अपने नाम बेहद खास गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness World Record) दर्ज करवाया था। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस कार की लंबाई 100 फीट है। यानी करीब-करीब ये कार 10 मंजिला इमारत के बराबर है। इस कार को किसी कंपनी ने नहीं, फिल्म के लिए एक गाड़ियों के जाने-माने डिजाइनर जे ओरबर्ग (Jay Ohrberg) ने डिजाइन किया था।

अमेरिका के कैलिफॉर्निया (California) में रहने वाले जे को कारों का बहुत शौक था और वो कई कार्स की शानदार डिजाइन बना चुके हैं। 00 फीट लंबी इस लेमोजीन में 26 टायर थे और ये दोनों तरफ से ड्राइव की जा सकती थी। कार के आगे और पीछे वी8 इंजन लगे थे। कार बीच से मुड़ भी सकती थी। इस कार में स्विमिंग पूल, जकूजी, बाथ टब, छोटा गोल्फ कोर्स, कई टीवी, फ्रिज, और टेलीफोन तो था ही, मगर उससे भी खास बात ये कि इसपर एक हेलीपैड भी बना था जिसपर हेलीकॉप्टर उतर सकता था। कार में 70 लोग बैठ सकते थे।