Spread the love

आखिरकार वह स्थिति सामने आ ही गयी जिसका दुनिया के लोगो को डर सता रहा था की कहीं रूस यूक्रेन पर ह’मला ना कर दे, लेकिन विश्व समुदाय की चेतवानी और सलाहों को दरकिनार करते हुए रूस ने यूक्रेन पर ह’मला कर ही दिया. दुनिया सहमी हुई है हर एक निगाह टकटकी लगाये यूक्रेन की ख़बरों पर टिकी हुई है.

जहाँ एक तरफ रूस की सेना यूक्रेन पर आ’तंक बरपा रही है और हेलिकॉप्टर एयर स्ट्राइक कर रहे हैं वहीँ अभी तक इन हम’लों में मरने वालो की सही सही खबर सामने नहीं आई है. इन सब हालातों के बीच यूक्रेन के राजदूत इगोर पोलखा (Igor Polikha) ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से मदद की अपील की है.

इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के मुताबिक, इगोर पोलखा ने कहा कि भारत और रूस के संबंध अच्छे हैं. नई दिल्ली (भारत) यूक्रेन-रूस विवाद को कंट्रोल करने में अहम योगदान दे सकता है. ऐसे में हम पीएम नरेंद्र मोदी से गुजारिश करते हैं कि वह तत्काल रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और हमारे राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की से संपर्क करें.

यूक्रेन मामले में भारत के रुख की बात करें तो वह अब तक तटस्थ रहा है. भारत ने अभी तक युद्ध या गतिरोध में किसी की तरफ कोई बयान नहीं दिया है. सिर्फ शांति से समस्या का हल निकालने की बात कही है.

इस बीच यूक्रेन में रहने वाले छात्रों के लिए केंद्र सरकार ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिए हैं. इसके साथ-साथ वहां फंसे लोग दी गई वेबसाइट पर भी मदद मांग सकते हैं. विदेश मंत्रालय का दिल्ली में मौजूद कंट्रोल रूम अब 24×7 काम करेगा. यहां से यूक्रेन में फंसे भारतीय स्टूडेंट्स, नागरिकों की मदद की जाएगी.