Categories
Hindi INDIA

बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड से करा दिया होटल और खाने का पेमेंट, लड़की पहुँच गयी थाने

देहरादून – लखनऊ में कैब ड्राईवर वाली कहानी आपको याद होगी जिसमे एक लड़की ने कैसे कूद-कूदकर कैब ड्राईवर को पीटा था, बेचारा ड्राईवर सबके सामने पिटता रहा, हालाँकि ड्राईवर को पुरे भारत का समर्थन मिला अब और उन्होंने एक पार्टी ज्वाइन कर ली है जिसमे वो पीड़ित पुरुषों को न्याय दिलवाएंगे. तो भाई, पीड़ित पुरुषों से सम्बंधित एक पत्थर तोड़ ब्रेकिंग न्यूज़ सामने आई है. मामला उत्तराखंड के हल्द्वानी का है.

हुआ यूं की प्रेमी और प्रेमिका होटल में रुके और खाना खाया, लेकिन किताब-ए-मोहब्बत के अध्याय 3 के पहले पन्ने पर लिखा है की जब गर्ल फ्रेंड और बॉय फ्रेंड मोमो, चाउमीन, टिक्की पिज़्ज़ा खाने जाएँ तो बिल का पेमेंट करने का अधिकार पुरुष समाज का है लेकिन लड़का यहाँ शातिर निकला और उसने यह रूल तोड़ दिया, चालाकी करते हुए उसने लड़की से पेमेंट करवा दिया.अब नियम तोडा है तो मामला तो बनता है तो साब लड़की जा पहुंची थाने और वहां जमके दोनों में तू-तू मैं-मैं और बालों की खींचा-तानी हुई.

जानकारी के अनुसार डीडीहाट निवासी एक महिला ने पुलिस को बताया कि कुछ साल पहले उसके पति का निधन हो गया। ऐसे में गांव के एक युवक से उसका प्रेम-प्रसंग शुरू हो गया। सोमवार को कुंवरपुर गौलापार में दोनों का एसएससी का पेपर था। रविवार को वह प्रेमी के साथ उसकी कार से हल्द्वानी पहुंच गई। इसके बाद रात को दोनों होटल के एक कमरे में ठहरे। जहां खाने और रहने का भुगतान प्रेमी ने उसी से करा दिया। जिससे दोनों में झड़प हो गई। नजारा देख मौके पर लोगों की भी उमड़ पड़ी। मामला यही नहीं थमा। पुलिस तक जा पहुंचा। पुलिस ने चेतावनी देकर दोनों को बाद में छोड़ दिया।

फिर क्या था सोमवार को रोडवेज स्टेशन पर पहुंचते ही प्रेमिका ने हंगामा काट दिया। प्रेमिका कार से उतरकर सडक़ पर आ गई और प्रेमी पर आरोपों की बौछार कर दी। हंगामा होने पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस दोनों को कोतवाली ले आई। यहां दोनों को समझाकर शांत कराया। इसके बाद पुलिसं ने दोनों को पेपर देने को कहा। और चेतावनी देकर छोड़ दिया।

खबर में इस्तेमाल की गयी फोटो सांकेतिक है 

Categories
अजब गजब

30 साल तक माँ ने बेटी से किया बीमार होने का नाटक, मरते समय कहा बहुत मज़ा आया सेवा करवा कर

माँ बेटी के बीच रिश्ता ऐसा होता है जिसमे माँ अपनी बेटी से कुछ नहीं छुप्ती है तो ऐसे ही बेटी भी अपनी माँ को अपने सरे राज़ बताती है। लेकिन हम आपको एक ऐसे माँ के बारे में बटन जा रहे है जिसने मरते मरते अपनी बेटी से अपनी एक बीमारी को लेकर झूट कहा। जिसकी सच्ची ऐसे पता चली की आप हैरान रह जाये गए। दुनिया में कई ऐसी बीमारियां हैं जो इतनी अजीबोगरीब (Weird Diseases) होती हैं कि उनके बारे में जानकर ही इंसान दंग हो जाता है।

कुछ ऐसे सिंड्रोम भी होते हैं जो इतने विचित्र (Weird Syndromes) होते हैं कि उनके लक्षण जानकर हर कोई दंग हो जाता है। हाल ही में इंग्लैंड की एक महिला से जुड़े सिंड्रोम (England Woman Strange Syndrome) के बारे में जब पता चला तो उसकी बेटी हैरान रह गई और जब ये खबर सबके सामने आई तो हर कोई सुनकर दंग रह गया। नॉटिंघम की रहने वाली हेलेन नेलर (Helen Naylor) की मां एलिनॉर (Elinor) की हाल ही में मौत हुई है।

तो वो पूरी तरह से टूट गईं थी मगर मां के मरने के बाद जब हेलेन ने अपनी मां की पर्सनल डायरी पढ़ी तो वो जानकर हैरान रह गईं कि उनकी मां को एक विचित्र तरह का सिंड्रोम था। दरअसल, एलिनॉर ने अपनी बेटी हेलेन को पूरी जिंदगी ये बताया कि उन्हें जॉइंट पेन, और काफी थकान (Mother Faked Illness) हमेशा ही बनी रहती है। मगर डायरी में सच पढ़कर हेलेन के पैरों तले जमीन खिसक गई। द सन वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार एलिनॉर को एक विचित्र तरह का सिंड्रोम था जिसका नाम मुनचौसेन्स सिंड्रोम (Munchausen’s syndrome) है।

जो लोग इस सिंड्रोम से ग्रसित होते हैं वो बीमार होने का नाटक करते हैं। उन्हें दूसरों से सेवा करवाने में और उनकी सिंपैथी लेने में बहुत अच्छा लगता है। हेलेन ने बताया कि उनकी मां ने 30 सालों तक उनसे झूठ बताया कि वो बहुत बीमार हैं और उनकी तबीयत हमेशा ही खराब रहती है। सालों तक बेटी से बोला झूठ38 साल की हेलेन ने बताया कि बहुत छोटे से ही उन्हें अपनी मां का ख्याल रखना पड़ता था क्योंकि वो बहुत बीमार थीं। वो कभी परिवार के साथ घूमने नहीं गईं, यहां तक कि कभी बाहर टहलने तक नहीं गईं थी। एलिनॉर ने अपनी डायरी में साफ-साफ लिखा है कि बीमारी के बारे में झूठ बोलकर उन्हें बहुत मजा आ रहा है और वो बेहद खुश हैं।

Categories
Business

गैस कनेक्शन के लिए नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर, एक मिस्ड कॉल में घर बैठे हो जायेगा जारी कनेक्शन

बहुत से लोग LPG गैस कनेक्शन लेना चाहते है पर उनके गैस एजेंसी में कई चक्क्र लगाने पड़ते है तब कहीं जेक उनका गैस कनेक्शन हो पता है। लेकिन अब आपको अगर नया कनेक्शन चाहिए तो इसके लिए डिस्ट्रीब्यूटर के ऑफिस के चक्कर नहीं लगाने होंगे। क्योंकि IOCL ने कस्टमर की सुविधा के लिए एक नंबर जारी किया है। जिसपर मिस्ड कॉल करने के बाद खुद IOCL का कर्मचारी आपके घर आकर रसोई गैस के कनेक्शन की सभी जरूरी कागजी कार्रवाई पूरी करेगा।

इसके साथ ही आप मिस्ड कॉल, वॉट्सऐप या फिर SMS के जरिए अपना रसोई गैस सिलेंडर बुक भी कर सकते हैं। आइए जानते हैं IOCL की इन सभी सुविधाओं के बारे में, रसोई गैस कनेक्शन के लिए इस पर करनी होगी मिस्ड कॉल – IOCL के ट्विट के अनुसार नया कनेक्शन लेने के लिए कस्टमर को 8454955555 पर मिस्ड कॉल करना होगा। जिसके बाद IOCL का कर्मचारी आपसे खुद संपर्क करेंगा। इसके बाद एड्रेस प्रूफ और आधार के जरिए आपको गैस कनेक्शन मिल जाएगा।

आपको बता दें इस नंबर के जरिए आप गैस रिफिल भी करा सकते हैं। इसके लिए आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से कॉल करना होगा। पुराने कनेक्शन का पता भी माना जाएगा एड्रेस प्रूफ – अगर आपके परिवार के पास पुराने पते पर कोई गैस कनेक्शन है। तो भी आपको नया गैस कनेक्शन मिल सकता है। इसमें आपको एड्रेस प्रूफ की भी सुविधा होगी। दरसअल नए कनेक्शन के लिए आप पुराने कनेक्शन के कागज दिखाकर एड्रेस प्रूफ के तौर पर यूज कर सकते हैं।

इसके लिए सिर्फ आपको अपनी गैस एजेंसी जाना होगा। जहां आपके पुराने कनेक्शन के कागज वेरिफाई होंगे और आपका नए कनेक्शन का एड्रेस प्रूफ पूरा हो जाएगा। अपने रजिस्टर्ड नंबर से 8454955555 पर मिस कॉल दें। भारत बिल पेमेंट सिस्टम (BBPS) के जरिये भी एलपीजी सिलेंडर रिफिल करा सकते हैं। इंडियन ऑयल के ऐप या https://cx.indianoil.in के जरिये भी बुकिंग होती है। कस्टमर्स 7588888824 पर वॉट्सऐप मेसेज के जरिये सिलेंडर भरवा सकते हैं। इसके अलावा 7718955555 पर एसएमएस या आईवीआरएस करके भी बुकिंग कर सकते हैं। अमेज़न और पेटीएम के जरिये भी सिलेंडर भरवाया जा सकता है।

Categories
Politics

कंगना रनौत की मुश्किलें बढ़ी, सिखों के खिलाफ टिप्पणी SGPC ने की तुरंत गिरफ्तारी की मांग

कंगना रनौत अपने बयानों की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहती है। लेकिन उनके यही बयान अब उनके लिए मुसीबत पैदा कर रहे है। अभिनेत्री कंगना रनौत की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। जौनपुर में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होने के बाद अब शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने “सिख विरोधी टिप्पणी” के लिए कंगना रनौत की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। इससे पहले भाजपा के दिग्गज नेता लक्ष्मी कांता चावला ने कहा था कि अभिनेत्री ने “अपना मानसिक संतुलन खो दिया है”।

एसजीपीसी अध्यक्ष बीबी जागीर कौर ने कंगना रनौत को चेतावनी देते हुए कहा कि सोच समझ कर बोलें। देश की आजादी में 80 फीसदी कुर्बानियां सिखों ने दी हैं और अब कंगना को अपनी बौद्धिक गरीबी की पेशकश करके देश के हालातों को खराब नहीं करना चाहिए। बीबी जागीर कौर ने मांग की कि अभिनेत्री कंगना रनौत को तुरंत गिरफ्तार किया जाए और सिख समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाए।

कंगना की टिप्पणी की निंदा करते हुए एसजीपीसी अध्यक्ष ने कहा कि अभिनेत्री जानबूझकर समुदाय के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट कर रही है, जिसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कंगना ने तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने की निंदा की, सिखों को “आतंकवादी” कहा और 1984 में तत्कालीन प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी की कार्रवाई की प्रशंसा की। एसजीपीसी अध्यक्ष ने कहा कि कंगना ने शायद देश की आजादी के लिए किए गए बलिदानों का सिख इतिहास नहीं पढ़ा।

 

एक बयान में चावला ने नरेंद्र मोदी सरकार से ‘पद्म श्री’ से सम्मानित करने से पहले किसी व्यक्ति की मानसिक स्थिति और बौद्धिक स्तर का पता लगाने के लिए कहा था। कंगना के इस बयान की निंदा करते हुए कि भारत को 2014 में वास्तविक आजादी मिली थी और 1947 की आजादी भीख थी; भाजपा के दिग्गज नेता ने कहा कि अभिनेत्री भूल गई हैं कि स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष “अमृत महोत्सव” के रूप में प्रधानमंत्री पूरे देश के साथ जश्न मना रहे थे।

Categories
WORLD

दुनिया के 100 सबसे प्रदूषित शहरों में सबसे ज्यादा भारत के 46 शहर, गाजियाबाद में सबसे जहरीली हवा

हर साल दिवाली के बाद दिल्ली और आसपास के इलाकों में वायु प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक हो जाता है और लोगों के लिए सांस लेना मुश्किल हो जाता है। भारत के साथ-साथ पड़ोसी देश भी वायु प्रदूषण चुनौती से जूझ रहे हैं। भारत, चीन और पाकिस्‍तान एक बार फिर से भारी प्रदूषण से जूझ रहे हैं। हर साल की तरह से इस साल भी भारत की राजधानी नई दिल्‍ली धुएं की मोटी परत से ढंक गई है। पिछले सप्‍ताह हालत इतनी खराब हो गई कि दिल्‍ली में स्‍कूलों को बंद करना पड़ा। दुनियाभर में हवा की गुणवत्‍ता पर नजर रखने वाले IQAir की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के 100 सबसे ज्‍यादा प्रदूषित सूची में चीन और पाकिस्‍तान को पछाड़कर टॉप पर पहुंच गया है। भारत के गाजियाबाद शहर की हवा देश में सबसे ज्‍यादा जहरीली है और वह चीन के होटान शहर के बाद दुनिया में दूसरा सबसे ज्‍यादा प्रदूषित शहर है।

अलजजीरा ने IQAir के हवाले से बताया कि राजधानी नई दिल्‍ली में हवा में PM2.5 पार्टिकल का स्‍तर विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के स्‍वीकार्य स्‍तर से 34 गुना ज्‍यादा है। इसमें कहा गया है कि ठंड में हवा सबसे ज्‍यादा जहरीली हो जाती है जब किसान पराली जलाते हैं। PM2.5 पार्टिकल इंसान के फेफड़ों को तबाह करके रख देते हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2020 में दुनिया के 100 सबसे ज्‍यादा प्रदूषित शहरों में 46 भारत के थे।

हवा की गुणवत्ता पर नजर रखने वाले IQAir के अनुसार, 2020 में 100 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में से भारत के 46, चीन के 42, पाकिस्तान के छह, बांग्लादेश के चार, इंडोनेशिया और थाईलैंड के एक-एक शहर शामिल थे। इन सभी शहरों में हवा की PM2.5 गुणवत्ता रेटिंग 50 के पार थी। इसका मतलब यहां की हवा में सांस लेना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। सबसे प्रदूषित 10 शहरों में से नौ भारत के हैं।

चीन का होटान सबसे अधिक प्रदूषित शहर
2020 में चीन का होटान सबसे प्रदूषित शहर रहा। सूची में दूसरे स्थान पर गाजियाबाद, तीसरे पर बुलंदशहर, चौथे पर बिसरख जलालपुर, पांचवें पर भिवाड़ी, छठे पर नोएडा, सातवें पर ग्रेटर नोएडा, आठवें पर कानपुर, नौेंवें पर लखनऊ और 10वें स्थान पर दिल्ली है।

मेडिकल जर्नल लान्सेट के मुताबिक, 2019 में वायु प्रदूषण के कारण भारत में 16 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई थी। प्रदूषण फैलाने वाले ईंधन की जगह रसोई गैस का इस्तेमाल बढ़ने से 1990 के बाद घरों में वायु प्रदूषण से होने वाली मौतें कम हुई हैं, लेकिन वातावरण में फैले प्रदूषण तत्व अधिक घातक साबित हो रहे हैं। यहां वाहनों और उद्योगों से निकलने और पराली जलाने से होने वाला धुआं प्रदूषण की मुख्य वजहों में शामिल है।

Categories
Gulf News

पत्रकार खगोशी के मंगेतर का जस्टिन बीबर के लिए ओपन लेटर कहा ताना’शाहों के लिए ना गाएं गाना

जस्टिन बीबर एक बड़े पॉप स्टार है और उनके पूरी दुनिया में फैंस है जस्टिन दिसंबर के महीने में सऊदी अरब में शो करने वाले हैं. हालांकि ऐसा कभी नहीं हुआ है और उन्होंने शायद ही इसकी उम्मीद की होगी कि उन्हें खास तरह की अपीलों का सामना करना पड़ेगा. दरअसल जस्टिन से अपील की जा रही है कि वे सऊदी अरब में होने वाले शो को कैंसिल कर दें.

दरअसल अरब के दिवंगत पत्रकार खशोगी की मंगेतर ने जस्टिन बीबर से अपील की है कि वे सऊदी अरब में होने वाले शो को कैंसिल कर दें. दरअसल, साल 2018 में वॉशिंगटन पोस्ट के पत्रकार और सऊदी अरब सरकार के आलोचक रहे जमाल खशोगी की इंस्ताुंबल स्थित सऊदी वाणिज्यिक दूतावास में ह’त्या कर दी गई थी और इस ह’त्या को लेकर सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान पर कई गंभीर आ’रोप लगे थे.

जमाल की मंगेतर हैटिस सेनगिज ने जस्टिन बीबर के लिए एक ओपन लेटर लिखा है और ये पत्र अमेरिका के मशहूर अखबार वॉशिंगटन पोस्ट में भी छपा है. हैटिस ने लिखा कि मैं जस्टिन बीबर से अपील करती हूं कि अपनी प्रस्तुति को रद्द करके दुनिया को एक शक्तिशाली संदेश दें कि आपके नाम और प्रतिभा का उपयोग ऐसे शासन की प्रतिष्ठा को बहाल करने के लिए नहीं किया जाएगा, जो अपने आलोचकों की ह’त्या कर देता हो.

इसके साथ ही उन्होंने ओपन लेटर में आगे लिखा था कि प्लीज आप जमाल के हत्या’रों के लिए गाना ना गाएं. आप इस मुद्दे पर बोलें और उनके हत्या’रों की आलोचना करें. आपकी आवाज को लाखों-करोड़ों लोग सुनेंगे और अगर आप सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का प्यादा बनने से इंकार करते हैं तो आपका मैसेज साफ होगा कि आप तानाशाहों के लिए परफॉर्म नहीं करते हैं और आपने पैसों के बजाए न्याय और आजादी को चुना है.

वहीं, इस मामले में कुछ मानवाधिकार संगठनों ने भी अपनी बात रखी है. इस शो में हिस्सा लेने वाले एसैप रॉकी, डेविड ग्वेटा, टिएस्टो और जेसन डेरुलो जैसे से अपील की गई है कि वे सऊदी अरब में मानवाधि’करों के हन’न को लेकर अपनी बात रखें और इसके साथ ही ह्यूमन राइट्स वॉच का कहना है कि सऊदी अरब का इतिहास रहा है कि वह मशहूर हस्तियों और प्रमुख अंतरराष्ट्रीय आयोजनों के सहारे अपने सत्ता के दुरु’पयोग से ध्यान भटकाने की कोशिश करता है.

गौरतलब है कि जमाल का जन्म सऊदी अरब में हुआ था और इसके बाद वे अमेरिका में रहने लगे थे और वे वॉशिंगटन पोस्ट में सऊदी के क्राउन प्रिंस पर काफी आलोचनात्मक पोस्ट लिखते थे और उन्हें सऊदी अरब के लिए ठीक नहीं बताते थे. 2 अक्टूबर 2018 को जमाल की इस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास के अंदर निर्म’म तरीके से ह’त्या कर दी गई थी.

Categories
Hindi INDIA Sports

फाइनल मैच, साँसे रुकी हुई, 1 बॉल पर 5 रन, शाहरुख़ ने छक्का मारकर तमिलनाडु को मैच जिताया

नयी दिल्ली – सोचकर देखिये की ट्राफी का फाइनल मैच हो और एक बॉल पर 5 रन की ज़रूरत हो तो ऐसे में बल्लेबाज़ी कर रही टीम के पास सोर्फ़ एक ही विकल्प बचता है की छक्का मारकर मैच जीत लिया जाए. लेकिन यह बात कहने में जितनी आसान लगती है उसती आसान होती नही है. एक तो फाइनल मैच का प्रेशर और ऊपर से एक गेंद में 5 रन बनाना लेकिन तमिलनाडु की तरफ से खेल रहे माध्यमक्रम के बल्लेबाज़ शाहरुख़ खान ने यह कारनामा कर दिखाया.

खबर में दिए गये विडियो को देखकर आप अंदाज़ा लगा सकतें है की कैसे शाहरुख़ खान ने कर्णाटक ने मुंह से जीता हुआ मैच छीन लिया.

बल्लेबाज शाहरूख खान के आखिरी गेंद पर लगाये गये छक्के के दम पर मौजूदा चैंपियन तमिलनाडु ने सोमवार को यहां कर्नाटक को बेहद रोमांचक फाइनल में चार विकेट से हराकर सैयद मुश्ताक अली ट्राफी टी20 टूर्नामेंट का खिताब बरकरार रखा। तमिलनाडु को 152 रन के लक्ष्य के सामने आखिरी गेंद पर पांच रन की दरकार थी। ऐसे में शाहरूख ने बायें हाथ के तेज गेंदबाज प्रतीक जैन की गेंद को डीप स्क्वायर लेग पर छह रन के लिये भेजा। उन्होंने 15 गेंद पर नाबाद 33 रन बनाये, जिसमें एक चौका और तीन छक्के शामिल हैं।

तमिलनाडु के लिये बायें हाथ के स्पिनर आर साई किशोर ने चार ओवर में 12 रन देकर तीन विकेट लिये। तमिलनाडु ने लक्ष्य का पीछा करते हुए बीच में बेहद धीमी बल्लेबाजी की। हरि निशांत (12 गेंद पर 23 रन) और एन जगदीशन (46 गेंदों पर 42 रन) ने पहले विकेट के लिये 29 रन जोड़े। निशांत के आउट होने के बाद तमिलनाडु के बल्लेबाजों को रन बनाने के लिये संघर्ष करना पड़ा।

कप्तान विजय शंकर ने 18 रन बनाये लेकिन इसके लिये उन्होंने 22 गेंद खेली। इससे टीम पर दबाव बन गया और उसे आखिरी दो ओवर में 30 रन की जरूरत थी।
लंबे शॉट खेलने में माहिर शाहरूख ने यहां से जिम्मा संभाला। उन्होंने विद्यासागर पाटिल के 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर टीम की उम्मीद बंधायी थी। जब टीम के सामने छह गेंद पर 16 रन का लक्ष्य था तब आर साइ किशोर (नाबाद छह) ने पहली गेंद पर चौका लगाया।

Categories
Politics

असदुद्दीन के बयान पर राकेश टिकैत ने साधा निशाना कहा बीजेपी और ओवैसी चाचा-भतीजे

जब से कृषि कानून की वापसी हुई हैं तब से कोई ना कोई कंट्रोवर्सी हुई हैं जैसे ही तीनों कृषि कानून की वापसी के ऐलान के बाद लखनऊ पहुंचे बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी की गिरफ्तारी और उनकी बर्खास्तगी की मांग की है और उन्होंने बीजेपी और ओवैसी को चाचा भतीजा बताते हुए निशाना साधा है ओवैसी ने सीएए और एनआरसी को हटाने की मांग की थी जिस पर टिकैत ने कहा कि टीवी पर बोलने के बजाय वह सीधे बीजेपी से इस बारे में कह सकते हैं।

इसी के साथ केंद्र पर निशाना साधते हुए राकेश टिकैत ने कहा, न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी की एमएसपी पर अभी ऐलान नहीं किया है। एमएसपी एक बड़ा सवाल है। एमएसपी की खरीद पर टिकैत ने कहा कि सरकार झूठ बोल रही है। झूठ का कोई इलाज नहीं है।

इसके साथ उन्होंने आगे कहा, ‘केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त किया जाए। MSP पर कानून बनाओ। 750 किसानों की मृत्यु हुई उनका ध्यान रखा जाए आगे दूध के लिए भी एक नीति आ रही है उसके भी हम खिलाफ है, बीज कानून भी है। इन सब पर बातचीत करना चाहते हैं।

ओवैसी के बयान पर निशाना साधते हुए राकेश टिकैत ने कहा, बीजेपी और असदुद्दीन ओवैसी चाचा-भतीजे हैं। ये चाचा-भतीजे की पार्टी की बात है। भतीजा मांग ले तो चाचा इसे भी वापस कर देगा। दरअसल ओवैसी ने तीनों कृषि कानूनों की तर्ज पर सीएए-एनआरसी को वापस लेने की मांग की थी।

 

Categories
Hindi INDIA

कृषि कानून वापसी: उमा भारती बोली ” मैं तो सुनकर अवाक रह गयी”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कृषि कानून वापस लेने के फैसले पर अब मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी के इस फैसले से वो हैरान हैं. कृषि कानून के बारे में किसानों को नहीं समझा पाना भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं की नाकामी है.

वही उमा भारती ने कहा है की बिल वापसी की घोषणा मुझे बहुत व्यथित कर गया. उमा भारती की इस बात के काफी मतलब निकाले जा रहे हैं. उन्होंने इसके कुछ और भी ट्वीट किये जिनमे उन्होंने पीएम मोदी की प्रशंसा करते हुए उनकी लम्बी आयु की कामनाएं भी की लेकिन उमा भारती का इस तरह का ट्वीट करना पीएम मोदी के विरोध के तौर पर देखा जा सकता है.

कानून वापसी की घोषणा के बाद पक्ष और विपक्ष के नेता दोनों लगातार प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं. विपक्ष के नेता तंज कस रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी के नेता इसे सराहनीय कदम बता रहे हैं.

उमा भारती ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘मैं पिछले चार दिनों से वाराणसी में गंगा किनारे हूं. 19 नवम्बर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब तीनों कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा की तो मैं अवाक रह गई, इसलिए तीन दिन बाद प्रतिक्रिया दे रही हूं. प्रधानमंत्री मोदी ने कानून वापसी की घोषणा करते समय जो कहा, वह मेरे जैसे लोगों को बहुत व्यथित कर गया. अगर कृषि क़ानूनों की महत्ता प्रधानमंत्री मोदी किसानों को नहीं समझा पाए तो उसमें हम सब भाजपा के कार्यकर्ताओं की कमी है. हम क्यों नहीं किसानों से ठीक से संपर्क और संवाद कर सके.

Categories
Health INDIA

तेलंगाना के एक स्कूल में 288 बच्चियां कोरोना पॉजिटिव, प्रशासन के हाथ पाँव फूले

देश में कोरोना वायरस दूसरी लहर ने जमकर तबा’ही मचाई. इस लहर ने लाखों लोगों की जिंदगियां छी’न लीं। इसके बाद थोड़ी राहत मिली और हालात को देखते हुए स्कूल और दफ्तर भी खोले जाने लगे. मगर तेलंगाना में आई हालिया खबर ने भ’यभीत कर दिया है.

दरअसल, रविवार को तेलंगाना के खम्मम जिले के सरकारी रेजीडेंशियल स्कूल की 288 छात्राएं को’रोना पॉजिटिव पाई गई हैं. इन मामलों के कारण प्रशासन में हड़कंप मच गया है. वायरस फैलने की जानकारी सामने आने के बाद छात्राओं के माता-पिता विद्यालय पहुंचे और प्रशासन से उनकी बच्चियों को घर भेजने का आग्रह किया है. स्वास्थ्य विभाग ने शिक्षकों समेत सभी स्कूली छात्राओं और कर्मियों के सामूहिक कोविड टेस्ट करने का फैसला लिया गया है.

गौरतलब है कि इस रेजीडेंशियल स्कूल में कुल 575 विद्यार्थी हैं. तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री टी. हरीश राव के अनुसार जिला स्वास्थ्य अधिकारियों से फोन पर बातचीत कर छात्राओं के स्वास्थ्य की जानकारी ली है. उन्होंने अधिकारियों को बेहतर चिकित्सा प्रदान करने और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ऐहतियाती उपाय करने का आदेश दिया है. रविवार को तेलंगाना में 103 कोविड मामले सामने आए हैं.

गौरतलब है कि इस वर्ष कोरोना की दूसरी लहर के कारण जिस तरह की त’बाही देखने को मिली उसने लोगों को भीतर तक झ’कझोर डाला था। ऐसे में एक बार दोबारा से कोरोना के मामलों के बढ़ने की खबर चिंता’जनक है.